रूपाणी ने अहमद पर किया पलटवार; कहा- एक-दूसरे का चेहरा न देखने वाले मोदी से डरकर हुए एक….

कागवड़. गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कांग्रेस के राज्यसभा सांसद तथा सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव अहमद पटेल ने सोमवार को कहा कि विपक्षी महा गठबंधन से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा के डर गये हैं, इस पर राज्य के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कड़ा पलटवार किया। उन्होंने यहां पत्रकारों से कहा कि महा गठबंधन दरअसल भ्रष्टाचार में डूबे और देश की जड़े खोदने वाले ऐसे दलों का गठबंधन है जिसके नेता पहले एक दूसरे का मुंह तक नहीं देखना चाहते थे।

रूपाणी ने कहा, ‘ अहमद भाई, आप क्या बात कर रहे हैं। ये दल जो एक दूसरे का चेहरा तक नहीं देखते थे केवल मोदी जी के डर से इकट्ठे हुए हैं। क्या समाजवादी पार्टी के अखिलेश यादव और बसपा की मायावती का गठबंधन पहले कभी संभव था। देश की जनता यह सब देख रही है और वही तय करेगी कि आने वाले समय में भ्रष्टाचारियों का यह गठबंधन जीतेगा या मोदी जैसा ईमानदार नेता।’

 

पटेल ने आज वाइब्रेंट गुजरात निवेश सम्मेलन की उपयोगिता पर भी सवाल खड़े किये थे और कहा था कि सरकार को यह बताना चाहिए कि इनके जरिये कितना निवेश हुआ है। अगर वास्तव में ऐसा हुआ होता तो आज गुजरात में बेरोजगारी नहीं होती। रूपाणी ने इस मामले में भी जवाबी हमला करते हुए कहा कि पटेल और कांग्रेस को इस विषय की समझ ही नहीं है।

 

मोदी की बॉडी लैंग्वेज से लग रहा है कि वह महा गठबंधन से डर गए हैं: अहमद

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता, राज्यसभा सांसद तथा सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव अहमद पटेल ने सोमवार को कहा कि विपक्षी महा गठबंधन के बारे में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बयान तथा हाल के उनके हाव-भाव (बाॅडी लैंग्वेज) से ऐसा लग रहा है कि वह इससे डर गये हैं।

 

पटेल ने आज यहां गुजरात कांग्रेस की विस्तृत कार्यसमिति की बैठक में भाग लेने से पहले पत्रकारों से कहा कि जिस तरह से मोदी ने महा गठबंधन के बारे में बोलना शुरू किया है उससे दिख रहा है कि उन्हें किसी प्रकार का डर है। उन्होंने कहा, ‘यह डर आप उनके हाल के हावभाव में भी देख सकते हैं।

 

भाजपा अध्यक्ष भी जो पहले यह कहते थे कि उनकी पार्टी 50 साल तक सत्ता में रहेगी वह हाल में हुए विधानसभा चुनावों में पराजय के बाद यह कहने लगे हैं कि अगर भाजपा अब हार  गई तो अगले 200 साल तक केंद्र में सत्ता में नहीं आ पाएगी। यह भी उनके डर को दर्शाता है। वे जानते हैं कि उन्होंने कुछ भी किया नहीं है और इसलिए जनता उनका समर्थन नहीं करेगी।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

No announcement available or all announcement expired.